🥳🌺नया साल 🌨️☃️💞✨🥳

बीत गया वो साल गया
देखो फिर नया साल आया है
फिर सर्दियों के महीनों में
हर्ष और उल्लास आया है
कुछ साथी संग के छूट गए
कुछ अपने थे जो रूठ गए
कुछ अनजाने थे वो जुड़ गए
यूं ही खट्टे मीठे अनुभव लाया है
बीत गया वो साल गया
देखो फिर नया साल आया है,

हर तरफ उत्साह , धूम मची है
पुराने पलो की याद छिडी है
नए उमंगों संग, नए सपने ये लाया है
बीत गया वो साल गया
देखो फिर नया साल आया है

तू भूल मत पिछला अपना
क्या सीखा तूने, क्या पाया है
वो अनमोल रत्न तेरे अनुभव
तेरे भाग्य के कुछ अनकहे संकल्प
नए अनुभव के साथ ये फिर
नया साल आया है
बीत गया वो साल नया
देखो फिर नया साल आया है

गिर कर उठना ,उठ कर गिरना
तू चलते चलना राही निडर
जीवन तो निरंतर चलना है
रुक कर किसको क्या मिल पाया है
वो पाया क्या जो खोया ना हो
मेहनत ही एक नगीना है
बीत गया वो साल नया
देखो फिर नया साल आया है।

Lots of love, peace, joy to my readers and my friends…..life is a full of endless possibilities 💞✨😁

——Dr sakshi pal

🌺💞🌺

Author:

be the part of the present

19 thoughts on “🥳🌺नया साल 🌨️☃️💞✨🥳

  1. दिल से दिल तक वाली पंक्तियाँ है ये🙏
    “गिर कर उठना ,उठ कर गिरना
    तू चलते चलना राही निडर”

    वैसे लिखे तो ये हो लेकिन इसे जीवन में याद रखना और अपनाना। मुझे देखना है ये दोस्त

    “गिर कर उठना ,उठ कर गिरना
    तू चलते चलना राही निडर
    जीवन तो निरंतर चलना है
    रुक कर किसको क्या मिल पाया है
    वो पाया क्या जो खोया ना हो
    मेहनत ही एक नगीना है”

    Liked by 3 people

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s